GAZAL KARLE

GAZAL KARLE
તરસથી વધુ જે પીએ આ જન્મમાં ,બીજા જન્મમાં એ જ 'ચાતક' બને છે

Ticker

6/recent/ticker-posts

आवाज सुनो,



ख़्वाब की तरह बिखर जाने को जी चाहता है
ऐसी  तन्हाई  कि  मर  जाने को जी चाहता है ---------इफ्तियार आरिफ


ख़ुद को बिखरते देखते हैं कुछ कर नहीं पाते हैं


फिर    भी   लोग  ख़ुदाओं   जैसी  बातें  करते  हैं------इफ्तियार आरिफ


नहीं  नहीं हमें अब  तेरी जुस्तुजू भी नहीं
तुझे भी भूल गए हम तिरी ख़ुशी के लिए-------------    जेहरा निगाह   


देखते देखते इक घर के रहने वाले
अपने  अपने  ख़ानों में  बट जाते हैं-----------------जेहरा निगाह   

Post a Comment

0 Comments